TS Inter 1st and 2nd Year Results Expected by Second Week of April

TS Inter 1st and 2nd Year Results Expected by Second Week of April

26 March, 2019, 4:11 pm

Board of Intermediate Education, Telangana has successfully completed the TS Inter 1st and 2nd-year examination 2019. The results are now expected soon. As per past trends, TS Inter 1st and 2nd-year result is expected in the second week of April 2019. BIE, Telangana conducts the board examinations for 11th and 12th Classes in the state. As per the report available, about 4,36,621 students have appeared for their first year or Junior Intermediate exams. A similar number of students have appeared for TS Inter 2nd Year 2019 examinations.

 

In 2018, TS Inter 1st and 2nd-year results were published on the same date. The results were declared on April 14, 2019. The tentative schedule is expected to be similar. Last year, about 455789 candidates appeared in TS Inter 1st Year and 429398 candidates appeared in TS Inter 2nd Year examinations. The results were published at 9 AM.

 

After Result announcement: Check Here

 

The passing percentage for TS Inter 1st year 2018 result was 62.35%. The pass percentage for TS Inter 2nd year 2018 result was marginally better at 67.25%.

 

Candidates who have appeared in the IPE March 2019 are advised to check the result on FastResult website. Updates for the dates would also be available on this page, once officially issued.

Question Number 22 Missing in PSEB 10th Maths Paper 2019

Question Number 22 Missing in PSEB 10th Maths Paper 2019

26 March, 2019, 12:09 am

On Friday i.e. on March 22, 2019, the students of Punjab Board 10th class appeared for Maths exam. Students got confused when they saw one question missing on the question paper. On the paper, the candidates did not get the question number 22. In Maths examination, one question was not there in Set C. It was a four mark question. However, the question was printed in the Hindi and Punjab language. But it was not available in the English language question paper. A meeting was held in the office regarding the solution to this problem. After a lot of conversations, they came with the solution to give four grace marks to the students who attempted the Set C of English question paper.

 

A few days earlier, the students of the 8th class also faced the issued about the question paper. On March 14, 2019, the students were supposed to enrol for the Social Science examination while they got the question paper of Punjabi. Due to the mistake of the printing firm, the students got the wrong question paper and the examination centres then solved this problem by giving the Social Science question paper to the candidates one hour later.

 

As per the date sheet of PSEB 10th Class, the exams started on March 15, 2019. The last date of the examinations is April 02, 2019. The exams start at 10:00 am and finish at 1:15 pm. The students will be provided for 3 hours to complete the exams. For 12th class, the PSEB board rescheduled the date sheet. The exams started on March 01, 2019. The students will appear for the last examination on April 01, 2019. The date sheet of the senior secondary is available for the streams such as Arts, Science and Commerce.

 

The Punjab School Education Board was established with the aim of giving the school education at the state level. The board is well known as PSEB. Annually, PSEB conducts the exams at the secondary and the senior secondary level. Apart from this Punjab board also gives distance learning at the state level. 

यूपी बोर्ड में मूल्यांकन प्रक्रिया जल्द ही पूरी होने की संभावना

यूपी बोर्ड में मूल्यांकन प्रक्रिया जल्द ही पूरी होने की संभावना

25 March, 2019, 8:43 pm

यूपी बोर्ड की आज 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा 2019 के लिए मूल्यांकन प्रक्रिया पूरी होने की उम्मीद है। कुछ ने यह भी सुझाव दिया है कि परिणाम जल्द ही जारी किया जाएगा। जानकारी के आधार पर, मीडिया रिपोर्टों में अनुमान लगाया जा रहा है कि यूपी बोर्ड रिजल्ट 20 अप्रैल तक जारी किया जा सकता है। रिपोर्ट्स के अनुसार, उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन की समय सीमा 23 मार्च, 2019 को निर्धारित की गई थी। हालांकि, होली की छुट्टियों के कारण, मूल्यांकन प्रक्रिया को आज, यानी 25 मार्च, 2019 तक बढ़ा दिया गया था। हालांकि, अपेक्षाकृत, परिणाम जारी होने में 10 से 15 दिन और लग सकते हैं।

 

बोर्ड के करीबी सूत्रों ने पुष्टि की है कि UPMSP जल्द से जल्द हाई स्कूल और इंटरमीडिएट के परिणाम जारी करने की योजना बना रहा है। साझा की गई तारीखें 20 अप्रैल या 21 के आसपास हैं। हालांकि, यह काफी हद तक मूल्यांकन कार्य के पूरा होने पर निर्भर करता है। यूपी बोर्ड की सचिव नीना श्रीवास्तव द्वारा सभी जिला निरीक्षकों को एक निर्देश भेजा गया था। जानकारी के अनुसार, DIoS को यह सुनिश्चित करने के लिए कहा गया था कि उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन 25 मार्च तक पूरा हो जाएं। कक्षा 12वीं की बोर्ड परीक्षा 2019 के लिए उपस्थित होने वाले 58 लाख छात्रों के साथ, 3 करोड़ से अधिक उत्तर पुस्तिकाएं मूल्यांकन के लिए थीं।

 

विभिन्न जिलों की रिपोर्ट यह पुष्टि करती है कि मूल्यांकन प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। बोर्ड के करीबी सूत्रों ने सुझाव दिया है कि मूल्यांकन का लगभग 95 प्रतिशत काम पूरा हो चुका है और शेष 25 मार्च तक होने की उम्मीद है। एक बार मूल्यांकन कार्य पूरा हो जाने के बाद, उत्तर पुस्तिकाओं और सूचियों को बोर्ड मुख्यालय के साथ साझा किया जाएगा। इसके बाद इन्हें आगे संसाधित किया जाना है और फिर सूची को अंतिम रूप दिया जाएगा और अंत में रिलीज के लिए सर्वर पर अपलोड किया जाएगा।

 

पूरी प्रक्रिया, विशेषज्ञ बताते हैं, लगभग दो से तीन सप्ताह का समय लगता है। आमतौर पर यूपी बोर्ड मई के अंत या जून की शुरुआत में परिणाम जारी करता था। हालांकि, पिछले साल बोर्ड ने 29 अप्रैल को रिजल्ट जारी किया था। इस साल बोर्ड की योजना बेहतर है और इसे 50 दिनों के भीतर जारी किया जाएगा।

 

यूपी बोर्ड परीक्षा 2 मार्च को कक्षा 12वीं के लिए और 28 फरवरी को कक्षा 10वीं के लिए संपन्न हुई। इस साल बोर्ड परीक्षाओं के लिए 58 लाख छात्रों ने पंजीकरण कराया था। कुल 3.20 करोड़ उत्तर पुस्तिकाओं में 1.90 करोड़ हाई स्कूल और इंटरमीडिएट के लिए 1.30 करोड़ का मूल्यांकन किया जाना था। यूपी बोर्ड 10वीं रिजल्ट 2019 की मूल्यांकन प्रक्रिया के लिए 79, 064 शिक्षकों को रखा गया है। 45, 732 शिक्षकों को यूपी बोर्ड इंटरमीडिएट की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन करने के लिए रखा गया है।

 

 

Maximum Cases of Cheating Reported from Aurangabad and Latur division

Maximum Cases of Cheating Reported from Aurangabad and Latur division

25 March, 2019, 5:46 pm

While there were no major incidents of cheating during the recently concluded Higher Secondary Certificate and Secondary School Certification examinations, a maximum number of such incidents were reported from Aurangabad and Latur city this year. A total of 17 lakh candidates had taken the SSC exams and 14.91 lakh candidates took the 12th Class exams that were conducted between February and March this year. Of the total 230 cases of cheating reported during HSC examinations, at least 83 involved students appearing under Aurangabad city, followed by Latur (51). Similarly, 153 copying cases were recorded from the Aurangabad division during SSC exams, followed by Nagpur (25) and Latur (20) divisions. According to the Maharashtra State Board for Secondary and Higher Secondary Education, more cases of cheating were recorded 366 cases during the 10th Class examinations.

 

“This year, MSBSHSE flying squads and vigilance teams were on their toes and managed to keep all kinds of malpractices in check,” an official said. Maths and science subjects saw the maximum number of cheating cases during 10th and 12th class examinations, board officials said. More than 50% cheating cases in these subjects were observed from Aurangabad and Latur districts during the examinations, they said. Besides, all the cheating cases reported during 12th Class psychology (5) and Sanskrit (4) examinations involved students from Aurangabad.

 

Language papers saw least cases of copying, board officials said. Unlike the two previous years, cases including misuse of mobile phones or social media, like WhatsApp, to leak question papers before exams were not reported during the 2019 examinations, except one incident recorded from Bhiwandi, Mumbai, where question papers of two subjects of the SSC examination were sold to students.

 

In Nagpur, police had busted a gang involved in tampering with the bar codes on answer sheets and misrepresenting real candidates at the exam centres. Some of the subjects that reported highest cases of copying during the HSC examinations were biology (70), sociology (24) and bi-focal paper-II(10), mathematics (59), bi-focal paper-I (50). Whereas, for the 10th Class exams, maximum cases of cheating were reported in mathematics paper -II (95), social science paper-I(61), science paper-II (52), science paper-I (69) and mathematics paper – I (37).
 

CBSE Board has Laid out Strict Guidelines for the Evaluation

CBSE Board has Laid out Strict Guidelines for the Evaluation

25 March, 2019, 4:48 pm

Central Board of Secondary Education has already started the evaluation process. The board is planning to publish the CBSE 10th and 12th Class Board Exam results on time this year. The board was ordered by the Delhi High Court last year to ensure that the result, including the revaluation process, is complete before admissions for Delhi University started. With that in mind, the CBSE board has already taken special measures to ensure timely evaluation and result. One of the measures, as per news, also includes asking schools not to start classes for 11th class before the announcement of CBSE 10th Result 2019.

 

Many publications have suggested that CBSE has sent information to affiliated schools, asking them not to start classes for the 11th class before the declaration of 10th Class Result 2019. The notification has been reportedly sent to ensure that teachers are available for the evaluation work for CBSE Board result. Evaluation work is presently going on.

 

While the news has not been confirmed yet by the CBSE board, sources report that the notice has already been sent out to the schools. Confirmation of the same is expected after 10 AM once the board offices open for public interaction. What is known, however, is that the CBSE board has taken extra measures this year to ensure timely evaluation and result announcement. Teachers and school officials have confirmed that the CBSE board has laid out strict guidelines for the evaluation work. All the teachers assigned for evaluation work are mandated to a minimum of 8 hours per day. The evaluation work is expected to continue for 20 days. Schools have been tasked to make sure that the teachers are given the requisite permission for evaluation. If the school fails to do so, a penalty charge of Rs 50000 has been set aside. Repeated failure may also lead the board to take a stricter action regarding the association of the school.

 

CBSE Board Examination 2019 began from February 15, 2019. The evaluation work has already begun across many centres in the country. The board has also devised a three-step counter checking mechanism. The papers would be evaluated twice and in parts by various teachers. In the seminar conducted by the CBSE Board officials before the start of the exam, the schools were informed that any mistake in the evaluation would be handled with severity. Teachers were last year suspended after grievous errors in calculation work were noticed during the revaluation.

यूपी बोर्ड 10 वीं परिणाम 2019 कैसे और कब प्राप्त करें

यूपी बोर्ड 10 वीं परिणाम 2019 कैसे और कब प्राप्त करें

24 March, 2019, 12:46 am

हर साल, छात्र खिलखिलाती आँखों के साथ यूपी हाई स्कूल रिजल्ट 2019 की प्रतीक्षा करते हैं। बोर्ड परीक्षाओं की समाप्ति के बाद, यूपी बोर्ड 10 वीं परिणाम 2019 प्रकाशित किया जाने वाला है। छात्रों को यूपी हाई स्कूल रिजल्ट 2019 ऑनलाइन मोड मिलेगा। अंतिम वर्ष की परिणाम तिथि के आधार पर, छात्र अप्रैल 2019 के तीसरे सप्ताह में हाई स्कूल रिजल्ट की उम्मीद कर सकते हैं। यूपी हाई स्कूल परिणाम 2019 प्राप्त करने के लिए, आपको रोल नंबर जमा करना होगा।

 

उत्तर प्रदेश मध्यम शिक्षा परिषद

 

यूपी बोर्ड भारत के प्रसिद्ध बोर्डों में से एक की श्रेणी में आता है। यूपी बोर्ड का पूरा नाम उत्त्तर प्रदेश मध्यम शिक्षा परिषद है। संक्षेप में, इसे यूपीएमएसपी के रूप में जाना जाता है। छात्रों की संख्या के संदर्भ में यूपी बोर्ड में एशिया के बड़े बोर्ड का टैग है। बोर्ड लगभग 32,00,000 की गतिविधियों का संचालन करता है। यूपी बोर्ड का मुख्यालय इलाहाबाद में स्थित है। इस समय, यह परीक्षाओं का संचालन करने और उसी के लिए परिणाम प्रकाशित करने में सक्षम है। हर साल 60 लाख से अधिक उम्मीदवार 10 वीं और 12 वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाओं में शामिल होते हैं। नवीनतम अपडेट के अनुसार, यूपी हाई स्कूल रिजल्ट 30 अप्रैल 2019 तक प्रकाशित किया जा सकता है। 2018 में, यूपी बोर्ड ने 11,000 केंद्रों में बोर्ड का संचालन किया और लगभग 36,55,591 छात्र 10 वीं कक्षा की परीक्षा में शामिल हुए थे। और परिणाम दोपहर 1:00 बजे प्रकाशित किया गया था।

 

यूपी हाई स्कूल रिजल्ट 2019 की जांच कैसे करें?

 

  • सबसे पहले आप यहाँ लिंक पर क्लिक करे। 
  • अब, आपको पृष्ठ पर "यूपी हाई स्कूल रिजल्ट 2019" के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • लिंक पर क्लिक करने के बाद, एक नई विंडो आपको दिखाई देगी। तो, अब आपको क्रेडेंशियल्स भरना होगा।
  • इसमें, अपना रोल नंबर सबमिट करें।
  • जब आप अपना रोल नंबर जमा करेंगे, तो यूपी हाई स्कूल रिजल्ट 2019 आपको प्रदर्शित होगा।
  • अंत में, आपको सलाह दी जाती है कि आप अपने रिजल्ट का प्रिंटआउट संभाल कर रखे।

 

परिणाम प्रकाशित होने के बाद आप यहाँ क्लिक करके देख सकते है: परिणाम जांचें

 

यूपी बोर्ड 10 वीं परिणाम 2019 में क्या-क्या उल्लेख किया गया है 

 

  • बोर्ड का नाम
  • परीक्षा का विवरण
  • विद्यार्थी का नाम
  • अनुक्रमांक।
  • नामांकन संख्या
  • पंजीकरण क्रमांक
  • विषय कोड
  • विषयों का नाम
  • थ्योरी विषय के अंक
  • प्रैक्टिकल विषय के मार्क्स
  • कुल मार्क
  • कुल स्कोर किए गए मार्क्स
  • परिणाम स्थिति
  • प्रतिशत
  • अन्य उपयोगी विवरण

 

11 वीं कक्षा में प्रवेश

 

परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद, छात्रों के पास अध्ययन के लिए वाणिज्य, विज्ञान और कला जैसे कई धाराएँ उपलब्ध होंगी धाराओं को लेने के बाद, छात्रों को अपने स्कूल में  रिपोर्ट करना होगा जहां वे प्रवेश के लिए प्रयास कर रहे हैं। छात्रों को अपना मूल पासिंग सर्टिफिकेट और मार्कशीट प्राप्त करना आवश्यक है। यदि छात्र अपने स्कूलों को स्थानांतरित करने की योजना बना रहे हैं, तो उन्हें भी स्थानांतरण प्रमाण पत्र प्राप्त करना होगा। प्रवेश के लिए अपने सभी प्रमाणपत्रों को उनकी फोटोकॉपी के साथ तैयार करें।

 

पिछले साल बड़ी संख्या में छात्र परीक्षाओं में शामिल हुए थे। कुल छात्रों में से 72.3% ने परीक्षा में उत्तीर्ण होने में सफलता प्राप्त की। लिंग के आधार पर उम्मीदवारों के शो को देखते हुए यह प्रमुख था कि लड़कियां लड़कों से आगे थी। 2018 में, लड़कियों का उत्तीर्ण प्रतिशत 78.8% था, जबकि लड़कों का 72.3% था। 

 

यूपी बोर्ड 10 वीं परिणाम 2019 देखे नाम के द्वारा:

 

ऐसे कई स्रोत उपलब्ध हैं जो यूपी हाई स्कूल का परिणाम 2019 देते हैं। इसलिए, रोल नंबर के अलावा, आप नाम के माध्यम से अपना परिणाम देख सकते है। इस तरह से परिणाम देखने के लिए, आपको बस अपना नाम जमा करना होगा। जब आप इसे भरेंगे, तो कुछ परिणाम आपको दिखाई देंगे। अब आपको अपना यूपी हाई स्कूल का रिजल्ट खोलना होगा। अपना परिणाम देखने के लिए, आप इसे रोल नंबर के माध्यम से संशोधित कर सकते हैं। कुछ वेबसाइट है जो परिणाम नाम वार प्रदान करती है।

 

बहुत से छात्रों ने नियमित रूप से अनुचित चिंता और तनाव के बारे में शिकायत की है जो परिणाम प्रकाशन की तारीख के बारे में गलत सूचना और समाचार के कारण होता है। इसके अलावा, किसी भी केंद्रीयकृत प्राधिकरण की कमी जो सटीक परिणाम समाचार और अलर्ट दे सकती है, उम्मीदवारों को परिणाम समाचार और अधिसूचना के साथ अधिसूचित रहने में मदद करने के लिए, fastresult.in उम्मीदवारों को ईमेल और एसएमएस के माध्यम से यूपी बोर्ड 10 वीं परिणाम 2019 अपडेट प्रदान करेगा। इच्छुक उम्मीदवार वेबसाइट पर अपना ईमेल आईडी और मोबाइल नंबर देकर मदद के लिए अपना नामांकन कर सकते हैं।

 

यूपी बोर्ड 10 वीं परिणाम 2019 मेरिट और टॉपर्स सूची:

 

पिछले वर्ष के उम्मीदवारों के प्रदर्शन को देखते हुए, मान्यता में आए नामों में यश्वी, अंजली वर्मा और विनय कुमार थे। ये शीर्ष तीन छात्र थे जिन्होंने यूपी में प्रथम, द्वितीय और तृतीय रैंक प्राप्त किया। अगर आप अंकों को समझना चाहते हैं तो हम यहां दे रहे हैं। यशस्वी ने 94.50% अंक, अंजलि वर्मा ने 96.33% और विनय कुमार ने 94.17% अंक प्राप्त किए।

 

यूपी बोर्ड कम्पार्टमेंट ​​​​​​​परिणाम 2019

 

अगर आपको बोर्ड परीक्षाओं में उत्तीर्ण अंक नहीं मिले तो उस समय आपको क्या करना चाहिए? हम इस भाग में इन बातो पर विचार कर रहे हैं। यदि आप परीक्षाओं में उत्तीर्ण नहीं हो पाए, तो यूपी बोर्ड आपको कम्पार्टमेंट ​​​​​​​परीक्षा के रूप में मौका देगा। सबसे पहले, आपको आवश्यक जानकारी के साथ आवेदन शुल्क जमा करके आवेदन को पूरा करना होगा। यहां, आपको उन विषयों पर चिह्नित करना होगा जिनके लिए आपको कम्पार्टमेंट परीक्षा के लिए उपस्थित होना है। परीक्षाएं जुलाई 2019 में आयोजित की जाएंगी। परीक्षाओं के पूरा होने के बाद, बोर्ड 10 वीं और 12 वीं कक्षा के लिए यूपी बोर्ड कम्पार्टमेंट ​​​​​​​परिणाम 2019 प्रकाशित करेगा। परिणाम यूपी बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध होगा। यूपी बोर्ड हाई स्कूल कम्पार्टमेंट ​​​​​​​परिणाम 2019 की जांच करने के लिए, आपको रोल नंबर दर्ज करना होगा। और आपका परिणाम आपको दिखाई देगा। आपका कंपार्टमेंट रिजल्ट पीडीऍफ़ में भी होगा, इसमें अंतिम अंकों के बजाय नए अंक शामिल होंगे।

 

यूपी बोर्ड 10 वीं परिणाम 2019 के लिए सभी छात्रों से आशा है, आप सभी परीक्षाओं में अच्छा करेंगे और अच्छे अंक प्राप्त करेंगे

CBSE 10th English Paper 2019 - Students & Teachers Review

CBSE 10th English Paper 2019 - Students & Teachers Review

23 March, 2019, 10:23 pm

The Central Board of Secondary Education has conducted the English exam for 10th class students Saturday, March 23, 2019. The English examination has garnered a mixed review from both students and teachers. some have called the examination to be easy as compared to last year, many have termed the literature section to be difficult. Grammar section was found to be simple by most students. Based on initial feedback received by the indianexpress.com, the literature section had many students quizzing.

 

According to a teacher with Amity International School, Pushp Vihar, application-based questions were asked in the literature part. “The grammar was straight forward and even writing section had simple questions. An eight marks question based on the novel was application based and students might give some time phrasing answers. Overall, the examination can be termed as easy and the number of students getting good marks can rise but with this simple question paper we can expect strict marking.”

 

Neelu Jawla, English Teacher, Vidyagyan, Bulandhshahr said, “The literature part covered almost all the chapters, those students had left any would face difficulty. Also, as compared to last years where most questions were straight forwards based on character sketch etc, questions in this year’s papers were opinion-based and some candidates might take time in understanding what exactly the question demand.” She further adds, “If a student has learned the NCERT thoroughly and has a basic understanding right, they would not face any problems. The three-hour exam started at 10:30 am. It constituted of three parts, Reading, Writing and Literature, all for 80 marks.

 

For 10th class, a total of 31,14,831 students have registered for the examination of which 1295754 are girls and 1819077 are boys. This year, 28 transgender students have also registered for the CBSE examinations. This year, not only did the CBSE examinations started earlier but also the CBSE 10th and 12th class result is expected to be announced earlier. The result is usually published in the third or fourth week of May. This year, the CBSE board has mentioned that they aim to bring out board results one week earlier than last years. It can be supposed in the second week of May.

ICSE 10th Chemistry Paper 2019 - Students & Teachers Review

ICSE 10th Chemistry Paper 2019 - Students & Teachers Review

23 March, 2019, 7:20 pm

The Council for the Indian School Certificate Examination conducted the examination of Chemistry on Friday. The examination was held on March 23, 2019, from 11:00 am. The examination of Chemistry Science Paper-2 was conducted for 2 hours. The students who appeared for the exam said that the question paper was simple. The students came out of the examination centres with happy faces.

 

The question paper was not long and all the questions were asked from NCERT syllabus. As per some students, the timing for the examination was enough and they were able to complete the whole question paper half an hour before the leaving time. Some students also said that they got enough time to revise the whole answer sheet twice.

 

Some of the questions were also asked from the previous years’ question paper. So, the students of CISCE Board who had solved the last years’ question papers had the benefit. When the students were asked about the difficulty level of the question papers then they said that it was simple to moderate. Some said that the paper was easy. However, for some of them, it was a bit tricky. The MCQ's were difficult because it required reasoning. The same had happened in the Physics examination. The optional questions were asked with a lot of options.

 

The 12th Class students appeared for their Geography examination on the same date. It was on the same date. The students of 12th Class were also happy with their question paper. All the questions were asked from the books. The questions were straightforward and no such question was out from the syllabus. As per some students, the difficulty level was the same as the last year’s question paper.

 

Last year, the result was announced on May 14, 2018. So, this year, the CISCE Result 2019 is expected to be published in the second week of May 2019. The students will get the result online on the FastResult website. The result link will be available there. The students will have to submit 7 digit UID number, index number, and solve the captcha to find the result.

यूपी बोर्ड 12 वीं परिणाम 2019 कैसे और कब प्राप्त करें

यूपी बोर्ड 12 वीं परिणाम 2019 कैसे और कब प्राप्त करें

23 March, 2019, 6:16 pm

यूपी बोर्ड 12 वीं परिणाम 2019 के लिए परिणाम तिथि क्या होगी? एक बार परीक्षा खत्म हो जाने के बाद उम्मीदवार 12 वीं कक्षा के परिणाम की तारीख की उम्मीद करने लगते है। इसलिए, आपके सभी प्रश्नों का हल बताने के लिए हम यहाँ हैं। यूपी इंटरमीडिएट रिजल्ट 2019 अप्रैल के आखिरी सप्ताह में सभी धाराओं यानी कला, विज्ञान और वाणिज्य के लिए प्रकाशित होगा। यूपी बोर्ड परिणाम आप हमारी वेबसाइट पर भी देख सकते है। तो, हमारे साथ बने रहें।

 

परिणाम घोषणा के बाद आप अपने परिणाम हमारी वेबसाइट पर देख सकते हैं

 

छात्र अपने 12 वीं कक्षा के परिणाम 2019 को ऑनलाइन मोड के माध्यम से जांचने में सक्षम होंगे। यूपीएमएसपी (उत्तर प्रदेश मध्यम शिक्षा परिषद) की स्थापना 1921 में संयुक्त प्रांत विधान परिषद के एक अधिनियम द्वारा की गई थी। उत्तर प्रदेश राज्य में 10 वीं और 12 वीं की परीक्षाओं को नियंत्रित करने की जिम्मेदारी है। यूपी बोर्ड का मुख्यालय इलाहाबाद में स्थापित है। इसके 4 क्षेत्रीय केंद्र वाराणसी, बरेली, मेरठ और इलाहाबाद में हैं। यह हाई स्कूल और इंटरमीडिएट स्तर के लिए पाठ्यपुस्तकों और पाठ्यक्रमों को भी निर्धारित करता है। यूपी बोर्ड वार्षिक रूप से परीक्षा आयोजित करता है। सत्र 2018 के लिए, उम्मीदवार फरवरी के महीने में परीक्षा के लिए उपस्थित हुए थे। अप्रैल के महीने में, बोर्ड 10 वीं कक्षा के बाद परिणाम प्रकाशन के साथ आया था। लेकिन क्या यूपी बोर्ड 12 वीं परिणाम 2019 के बारे में? इसके अंतिम वर्ष की प्रवृत्ति को ध्यान में रखते हुए हम कह सकते हैं कि बोर्ड परिणाम अप्रैल के अंत तक अपेक्षित रूप से घोषित करेगा। यूपी बोर्ड 12 वीं कक्षा की परीक्षाएं पिछले वर्ष की तरह ही महीने में तय की जाएंगी। शैक्षणिक सत्र के लिए 12 वीं कक्षा की परीक्षाओं के बाद, 2019 के उम्मीदवार अपने परिणाम से संबंधित सभी विवरणों को जानने के लिए उत्साहित होंगे। तो नीचे दी गई घटनाओं की तालिका की योजना और उसके बाद कई और जांचें।

 

यूपी बोर्ड 12 वीं परिणाम 2019 कैसे प्राप्त करें:

 

जैसा कि ज्ञात है कि यूपी बोर्ड अपना परिणाम ऑनलाइन प्रकाशित करेगा। तो, अंतिम मिनट के ट्रैफ़िक से बचने के लिए परिणाम प्राप्त करने के लिए चरण नीचे दिए गए हैं।

 

  • हमारे पेज पर दिए गए लिंक पर क्लिक करें।
  • अब, जैसे ही आप लिंक पर क्लिक करेंगे आपको नई विंडो मिल जाएगी। एक लॉगिन विंडो जहां आपको कुछ विवरण भरना होगा।
  • यहां, आपको अपना रोल नंबर और आपका नाम भरना होगा।
  • सभी जानकारी प्रस्तुत करने के बाद, आप आगे बढ़ेंगे।
  • अब, आप अपना यूपी इंटरमीडिएट परिणाम 2019 प्राप्त कर सकेंगे।
  • यह आपके प्राप्त अंकों और आपके परिणाम की स्थिति को प्रदर्शित करेगा।
  • इसे ध्यान से देखें और यदि आवश्यक हो तो इसे डाउनलोड करें।

 

 

यूपी इंटरमीडिएट के रिजल्ट में क्या-क्या देखना जरुरी है ?

 

 

इस खंड के माध्यम से, आपको यह समझ में आ जाएगा कि आधिकारिक रूप से प्रकाशित होने के बाद आपका परिणाम कैसे दिखाई देगा।

 

  • अनुक्रमांक
  • रोल कोड
  • विद्यार्थी का नाम
  • पिता का नाम
  • माता का नाम
  • थ्योरी और प्रैक्टिकल में प्राप्त अंक
  • अलग-अलग निशान
  • विभाजन
  • परिणाम - असफल / पास

 

12 वीं कक्षा के बाद क्या करें?

 

 

12 वीं कक्षा के बाद सबसे महत्वपूर्ण समस्या यह है की एक उम्मीदवार का जीवन तब तक बहुत अच्छा होता है जब तक वह 12 वीं कक्षा पास नहीं कर लेता उसके बाद कैरियर के कई विकल्प होते है और वह भ्रमित होने लगता है। एक उम्मीदवार इस भ्रम को दूर कर सकता है सबसे पहले यह जानकर कि आपको वास्तव में क्या करना पसंद है। प्रयास करने का कोई मतलब नहीं है जो आपको पसंद नहीं है। एक बार जब आप समझ जाते हैं कि आपको किस क्षेत्र में अवसर मिलते हैं आप वही काम करने योग्य है।

 

12 वीं कक्षा के बाद कैरियर के अवसर

 

अगर हम कैरियर विकल्पों के बारे में बात करते हैं तो हम कह सकते हैं कि 12 वीं के बाद कई विकल्प हैं। आप रेलवे भर्ती, पुलिस भारती, एसएससी नौकरियों आदि की नौकरियों के लिए जा सकते हैं। दूसरी ओर, यदि आप अधिक अध्ययन करने की योजना बनाते हैं, तो कई विकल्प हैं जिनसे आप आगे जा सकते हैं।

 

  • इंजीनियरिंग और मेडिकल ने विकल्प सुरक्षित कर लिए हैं। इंजीनियरिंग में प्रवेश के लिए, JEE Main को राष्ट्रीय स्तर पर लिया जाता है
  • इसके अलावा प्रत्येक राज्य अपनी प्रवेश परीक्षा का प्रबंधन करता है। जबकि पूरे देश में मेडिकल प्रवेश NEET के आधार पर किए जाते हैं। 
  • एक आर्किटेक्चर कैरियर, आप एनएटीए और जेईई मेन के लिए उपस्थित हो सकते हैं।
  • बीबीए उम्मीदवारों के बीच बीबीए आपकी पसंद के अनुसार एक और सामान्य कैरियर विकल्प है।
  • इसके अलावा आप बी.फार्मा, बी.एससी, फैशन डिजाइनिंग, एलएलबी, होटल मैनेजमेंट, डिफेंस आदि के लिए भी जा सकते हैं जो आपके करियर के निर्माण के लिए संभव विकल्प हैं।

 

यूपी बोर्ड 12 वीं के परिणाम 201​​​9 बनाम ​2018

 

एक परिणाम का स्टैटिक्स परिणाम समय पर एक बहुत बड़ी भूमिका निभाता है। यहां हम 2018 और 2019 के लिए यूपी बोर्ड के परिणाम के बीच अंतर को देखने के लिए हैं। 2018 में, यूपी बोर्ड ने 12 वीं कक्षा का परिणाम 29 अप्रैल को प्रकाशित किया है। हालांकि बोर्ड ने परिणाम की तारीख और समय को एक सप्ताह पहले ही मंजूरी दे दी थी। इससे अभ्यर्थियों में उत्साह बढ़ा। लेकिन केवल उम्मीदवार उत्साहित थे, बल्कि उनके अभिभावक, स्कूल और अन्य वेबसाइटें भी थीं, जिन्होंने छात्रों को उनके परिणाम के साथ जोड़ने की जिम्मेदारी ली। इन सबके बीच हम कतार में शामिल थे। उत्तर प्रदेश बोर्ड सबसे बड़े बोर्ड में से एक है जहां प्रत्येक वर्ष लाखों उम्मीदवारों ने अपने लिए पंजीकरण कराया है। 2018 में लगभग छह लाख उम्मीदवारों ने परीक्षा दी। कुल में से, 29,81,327 उम्मीदवार 12 वीं कक्षा की परीक्षाओं में शामिल हुए हैं, जबकि 36,55,591 उम्मीदवार 10 वीं कक्षा की परीक्षा में शामिल हुए हैं। 12 वीं कक्षा के छात्रों का कुल पास प्रतिशत 72.43% था। राज्य की लड़कियों ने कुल 78.44% प्राप्त किए, जबकि लड़कों ने कुल 67.36% प्राप्त किए थे। हालाँकि, पिछले वर्ष की तुलना में उत्तीर्ण प्रतिशत में 10% की गिरावट आई थी। इसलिए, 2019 में, हम इस वर्ष प्रतिशत में वृद्धि मान रहे हैं। जैसा कि उत्तर प्रदेश बोर्ड अपनी प्रबंधन प्रणाली को विकसित करने में काफी प्रयास कर रहा है। इसलिए, सभी बिंदुओं को याद रखकर हम कह सकते हैं कि 2019 में प्रकट उम्मीदवारों के साथ-साथ उत्तीर्ण अनुपात में भी वृद्धि होगी।

 

यूपी बोर्ड 12 वीं परिणाम 2019 - नाम, रोल नंबर, स्कूल, विषय और जिला के माध्यम से देखे:

 

यूपी इंटरमीडिएट रिजल्ट 2019 यूपी बोर्ड द्वारा प्रकाशित किया जाएगा। यूपी बोर्ड की इंटरमीडिएट परीक्षा फरवरी 2019 के बीच हुई थी। यूपी बोर्ड 12 वीं के परिणाम प्राप्त करने के लिए वेबसाइट पर दिए गए बॉक्स में अपना रोल नंबर भरना होगा। हायर सेकेंडरी परीक्षा का प्रबंधन प्रतिवर्ष और एक साथ पूरे यूपी में किया जाता है। इस बोर्ड का मुख्य उद्देश्य पूरे राज्य में शिक्षा स्तर को विकसित करना है। इस बोर्ड के तहत कई सरकारी और निजी स्कूल जुड़े हुए हैं। यूपी में सभी वर्गों के 12 वीं परिणाम आधिकारिक वेबसाइट पर प्रकाशित किया जाएगा। छात्रों को यूपी इंटरमीडिएट परिणाम 2019 के बारे में नया अपडेट प्राप्त करने के लिए इस वेबसाइट से जुड़ने की सलाह दी जाती है। यदि आपको वेबसाइट पर पहुंचने के लिए किसी भी समस्या का सामना करना पड़ता है, तो आप उस लिंक का उपयोग कर सकते हैं जो यूपी इंटरमीडिएट रिजल्ट 2019 तक पहुंचने के लिए इस पृष्ठ पर दिया गया है।

 

 

यूपी बोर्ड 12 वीं परिणाम 2019 मोबाइल फोन और ईमेल के माध्यम से:

 

 

इस वर्ष 2019 में 3595749 छात्र 12 वीं कक्षा की परीक्षा में शामिल हुए थे। यूपी बोर्ड ने 19,341 परीक्षा केंद्रों की स्थापना की, जिनमें 9,332 12 वीं कक्षा की परीक्षा के लिए थे। यूपी बोर्ड ने एक और लाभ दिया है कि आप अपने परिणाम एसएमएस और ईमेल के माध्यम से देख सकते हैं। परिणाम के समय बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर उस समय बहुत अधिक उपयोगकर्ताओं के कारण डाउन हो सकती है, साइट पर लगभग 70 लाख उम्मीदवार हैं, इसलिए उस समय साइट सही तरीके से काम नहीं करेगी, आप अपना परिणाम ​​​​​​​पाने के लिए दिए गए नंबर पर एसएमएस भेज सकते हैं ​​​​​​​

 

एसएमएस - यूपी 12 <स्पेस> एलओएल। नहीं। और इसे 56263 पर भेजें

 

यदि आपके पास यूपी बोर्ड 12 वीं परिणाम 2019 के बारे में कोई प्रश्न हैं, तो आप अपने प्रश्नों को मोबाइल ऐप टिप्पणी बॉक्स में छोड़ सकते हैं।

होलिका के दिन भी केंद्रों में यूपी बोर्ड की कॉपियां जांची गईं

होलिका के दिन भी केंद्रों में यूपी बोर्ड की कॉपियां जांची गईं

22 March, 2019, 11:23 pm

यूपी बोर्ड की परीक्षा में नकल पर सख्ती हुई तो छात्र-छात्राओं ने कॉपियों में इस उम्मीद में नोट बांधना शुरू कर दिया कि शिक्षक दया खाकर पास होने लायक नंबर तो दे ही देंगे। यूपी बोर्ड परीक्षा की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन के दौरान जिले के सभी केंद्रों पर कॉपियों से नोट निकल रहे हैं। भारत स्काउट एवं गाइड इंटर कॉलेज में पश्चिमी यूपी से आईं हाईस्कूल की कॉपियों में से जमकर नोट निकल रहे हैं। पिछले दिनों गणित की कॉपियों के हर पन्ने से 100, 200 और 500 के नोट निकले। एक शिक्षक को तो एक दिन में 8600 रुपये मिल गए। तथा अन्य शिक्षकों को भी कॉपियों से हजारों रुपये मिले। यूपी बोर्ड परीक्षा की कॉपियों से नोट मिलने की जानकारी होते ही उपप्रधान परीक्षक शिक्षकों को कॉपी देने से पहले खुद ही नोट निकालने लगे। हालांकि शिक्षकों ने किसी को कुछ नहीं बताया। धीरे से नोट पॉकेट में रखकर आगे मूल्यांकन में व्यस्त हो गए।

 

याद रहे परिणाम घोषणा के बाद आप अपने परिणाम हमारी मोबाइल एप्लिकेशन पर देख सकते हैं


होलिका के दिन यानी बुधवार को भी कॉपियां जांची गईं। हालांकि शिक्षकों की उपस्थिति न के बराबर थी। केपी इंटर कॉलेज में सुबह 8 से लेकर 2 बजे तक कॉपियां जांची गई। हालांकि कुल 444 कॉपियां ही कोठार से जारी हुई थी। यूपी बोर्ड के सात मूल्यांकन केंद्रों पर पौने दस लाख कॉपियां परीक्षकों ने दस दिन में जांच दी है। राजकीय इंटर कॉलेज में इंटर की 16665, भारत स्काउट एंड गाइड इंटर कॉलेज में हाईस्कूल की 19204, राजकीय बालिका इंटर कॉलेज में हाईस्कूल की 2078, क्रास्थवेट गर्ल्स कॉलेज में हाईस्कूल की 11017, अग्रसेन इंटर कॉलेज में हाईस्कूल की 5500 कॉपियां जांची गई। केएन काटजू इंटर कॉलेज में इंटर की 5625 तथा केपी इंटर कॉलेज में 10109 कॉपियों का मूल्यांकन हुआ। कुल मिलाकर 70198 कॉपियां मंगलवार को जांची गई। और दस दिन में कुल 973963 कॉपियां जांची गई है। जिले में आवंटित 1411113 कॉपियों में से 437150 कॉपियां बची है। 

 

Maharashtra Board SSC History Paper Leak

Maharashtra Board SSC History Paper Leak

22 March, 2019, 9:00 pm

The Maharashtra State Board of Secondary and Higher Secondary Education conducted History examination for 10th class on March 20, 2019. Just before a few minutes before the examination, the question paper of History got leaked on social media. Some of the teaching institute owners got the question paper at 10:10 am while the examination was about to start at 11:00 am. The owner of an educational institute sent an email to the divisional board. Some members of the organization got the 10th class question paper images. He shared the images Algebra paper which was scheduled on March 11, 2019. They got the question paper 45 minutes before the examination. They also gave the hint of the leak of the question paper of Science.

 

Now, the MSBSHSE board is taking action against the sources which are connected in the paper leak. The Maharashtra Board has also assured the students to avoid any kind of difficulty. Today is the exam of Social Science- II (Geography) for SSC students. The board is conducting the examinations from 11:00 am to 1:00 pm. The examination is the same for the new and the old syllabus’ students. Today, the examinations are finishing. The MSBSHSE board will declare the Maharashtra SSC Result 2019 in the month of June 2019. In the last year, the result was published on June 08, 2018. So, this year, the students may get the result in the second week of June 2019.

 

In the current year, around 17 lakh candidates appeared for the examinations and  3.83 lakh from Mumbai. The examinations were concluded into 4,874 exam centres across the state. In the 2019 session, about 3,83,320 fresh students enrolled in the exams. The number of candidates who are appearing for the re-exams this year is 16,307. In 2018, the number of students was 3,39,999 while the fresh students were 42,855. For 2019 session examinations, the new and the old syllabus’ candidates took part. So, around, 16,41,568 candidates appeared for the new course and 59,245 for the old syllabus examinations.

 

The Maharashtra State Board Of Secondary and Higher Secondary Education (MSBSHSE) is a state level board. It works for Maharashtra state only. MSBSHSE came into existence under the act of 1965. Maharashtra Board conducts the examinations for the secondary as well as for the senior secondary standard. Every year, more than 14 lakh candidates take part in the examinations of 10th and 12th class.

AP Board 10th and 12th Results will be Declared in April

AP Board 10th and 12th Results will be Declared in April

22 March, 2019, 6:01 pm

The Board of Intermediate Education Andhra Pradesh will declare the results of 1st and 2nd-year exams on the scheduled time in April like every year. “The Lok Sabha elections will not affect the board examination results, the results of the 1st and 2nd-year examinations will be declared as scheduled by the end of April,” said an official. The evaluation process of both the 1st and 2nd-year answer scripts has been started, and the students can expect results by the third or fourth week of April.

 

 

Note: You can check your results on the FastResult mobile app

 

“Around 48,000 teachers have been appointed by the BIEAP board for the evaluation process. The AP board has communicated the teachers to submit the answer scripts by the second week and the results are likely to be published by the month end. The students can get the results of 1st and 2nd-year examinations through the FastResult website. Over 10.6 lakh students appeared for the 1st and 2nd-year examinations that were concluded on March 18, 2019.

 

Students obtaining 91 to 100 marks will be given A1 grade, 81 to 90 marks A2 grade, 71-80 marks B1 grade, 61 to 70 marks B2 grade, 51 to 60 marks C1 grade, 41-50 C2 marks grade and 35 to 40 marks D grade and below 35 marks would be considered fail. Last year, the AP 2nd year result was announced on April 15, while the 1st year result declared on April 16, 2019. Around 4,78,621 students cleared the first year exams.

to know your result

register here

why choose fastresult ?

  • Save & Share Your Result

    You can save and share your result with yours friends or family via social media like whatsapp, facebook etc with single click in PDF & Image Format.

  • Notification

    Get notification of your Result & Exam time table/Date Sheet when it is out.

  • Fast Result Showing & Downloading

    We use latest technology which helps you to view or download your result with fast speed.

  • Discuss

    You can discuss your queries or question with all users and get answer of question.You can post your queries in text or image.Get likes on your post.

What our users say about us...

check your result now on the go!


download india's #1 fast result app


Enter your phone number to get install link

or

Play Store Link - FastResult Apple Store Link - FastResult